सोर्बिलाइन सिरप क्या है – इस्तेमाल, फायदे और साइड इफेक्ट्स

Sorbiline Syrup का उपयोग क्या है, यहाँ आप सोर्बिलाइन सिरप के बारे में सम्पूर्ण जानकारी प्राप्त करेंगे। इस लेख में आप सोर्बिलाइन सिरप के बारे में हिंदी में जानकारी मिलेंगी।

Sorbiline Syrup Uses in Hindi

जानिए सोर्बिलाइन सिरप की जानकारी, लाभ, फायदे, उपयोग, प्रयोग, कीमत, कब लें, कैसे लें, कितना लें, खुराक, डोज, साइड इफेक्ट्स, नुकसान, दुष्प्रभाव और सावधानियां-

दवा के घटकTricholine Citrate (0.55gm) + Sorbitol (7.15gm)
निर्माताFranco Indian Pharmaceuticals Pvt Ltd
दवा का प्रकारSorbiline Syrup 100ml, Sorbiline Syrup 200ml

सोर्बिलाइन सिरप

सोर्बिलाइन सिरप मुख्य रूप से लीवर के स्वास्थ्य को बढ़ावा देने के लिए चुना जाता है। यह फैटी लीवर की समस्या को दूर करता है और लीवर के कार्यों में एक लय स्थापित करता है, जिससे लंबे समय में लीवर के समग्र स्वास्थ्य को सामान्य किया जा सकता है।

यह दवा कोलेस्ट्रॉल को नियंत्रित कर हृदय रोगों के खतरे को कम करने में मददगार हो सकती है। इस एलोपैथिक सिरप का उपयोग कुछ अन्य स्थितियों में भी किया जाता है जैसे- वयस्कों में अस्थमा के लक्षण, यकृत विकार, पेट में ऐंठन, कब्ज आदि।

इस सिरप में प्रयुक्त सामग्री इसे एक प्रभावी रेचक, रेचक और मूत्रवर्धक बनाने के लिए जिम्मेदार है। इसे खरीदने के लिए किसी मेडिकल प्रिस्क्रिप्शन की जरूरत नहीं है। यह फ्रेंको इंडियन फार्मास्युटिकल्स प्राइवेट लिमिटेड द्वारा निर्मित है, जो 200 मिलीलीटर की बोतल में 139.77 रुपये में बाजार में उपलब्ध है।

सोर्बिलाइन सिरप की संरचना

Sorbitol (7.15gm) + Tricholine Citrate (0.55gm)

सोर्बिलाइन सिरप के उपयोग

सोर्बिलाइन सिरप आमतौर पर यकृत विकार, कब्ज और अस्थमा से जुड़े लक्षणों के लिए प्रयोग किया जाता है। इस सिरप का उपयोग उच्च कोलेस्ट्रॉल के प्रबंधन में भी किया जा सकता है। है

इस सिरप का उपयोग हमारे शरीर में होने वाली विभिन्न समस्याओं के उपचार में किया जाता है, जिनमें से कुछ मुख्य बिंदु इस प्रकार हैं:-

  • जिगर के विकार– इस सिरप को लगातार पीने से लीवर की सभी प्रकार की समस्याएं दूर हो जाती हैं। इस सिरप के इस्तेमाल से लीवर से जुड़ी समस्याएं पूरी तरह से ठीक हो जाती हैं।
  • यकृत विकार– यदि रोगी को यकृत विकार की समस्या है तो इस सिरप का उपयोग इसे ठीक करने के लिए किया जा सकता है, यहां सिरप बहुत प्रभावी है।
  • विकार जिगर– यहां दवा लीवर की बीमारी की समस्या को काफी हद तक ठीक कर देती है, लेकिन इसका इस्तेमाल करने से पहले आपको डॉक्टर को इसकी जानकारी जरूर देनी चाहिए, नहीं तो आपके साथ बुरा परिणाम हो सकता है।
  • अस्थमा वयस्क– अगर किसी व्यक्ति को अस्थमा की समस्या है तो इस सिरप के सेवन से वह ठीक हो जाता है।

सोर्बिलाइन सिरप के साइड इफेक्ट

इस दवा के प्रयोग से कुछ साइड इफेक्ट होते हैं, जो आपके शरीर में देखे जा सकते हैं, हम आपको बता रहे हैं कुछ प्रकार के साइड इफेक्ट्स, यदि आपको इनमें से कोई भी प्रकार का साइड इफेक्ट आपके शरीर में दिखाई देता है।

आपको तुरंत अपने डॉक्टर से सलाह लेनी चाहिए या अगर आपको कोई अलग तरह की समस्या है तो डॉक्टर से भी मिलें, हालांकि इस सिरप ने लोगों पर काफी दुष्प्रभाव डाले हैं।

  • गैस होना- अगर आपको गैस की समस्या है तो भी हो सकता है।
  • अतिसार- इस सिरप के सेवन से किसी को दस्त की समस्या होने लगती है।
  • उल्टी की इच्छा- इस दवा का सेवन करने वाले किसी भी रोगी को उल्टी की समस्या भी हो सकती है।
  • चक्कर आना- कभी-कभी चक्कर आने की समस्या भी देखने को मिलती है।
  • कमजोरी- कई लोगों में इस दवा को लेने के बाद कमजोरी की समस्या भी होने लगती है।
  • पेट में ऐंठन- इस सिरप को पीने के बाद पेट में ऐंठन भी हो जाती है।
  • जी मिचलाना– इस सिरप को पीने के बाद आपको मिचली आ सकती है।
  • चक्कर आना- इस सिरप की वजह से कई मरीजों में चक्कर आने की समस्या भी देखी गई है।

सोर्बिलाइन सिरप की खुराक

यहां खुराक डॉक्टर द्वारा निर्धारित नियमित समय पर ली जानी है। डॉक्टर की सलाह के बिना इस दवा को अपने आप बंद न करें, नहीं तो आपको फिर से समस्या का सामना करना पड़ सकता है।

अगर आपने गलती से एक खुराक छोड़ दी है और दूसरी खुराक लेने का समय आ गया है, तो आपको पहेली खुराक नहीं खानी चाहिए और दूसरी खुराक लेनी चाहिए और डॉक्टर के पास जाने के बाद यह जरूर बताएं।

अगर आपको यहां खाने के बाद किसी भी तरह की परेशानी होती है तो आपको तुरंत दवा लेना बंद कर देना चाहिए और डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए।

सोर्बिलाइन सिरप कैसे काम करती है?

सोर्बिलाइन सिरप दो दवाओं का एक मिश्रण हैःट्रिकोलाइन साइट्रेट और सोर्बिटोल।

ट्राइकोलिन साइट्रेट एक पित्त एसिड बाइंडिंग एजेंट है। यह शरीर से पित्त अम्ल को निकालता है। इसके बाद लीवर अधिक पित्त अम्ल बनाने के लिए कोलेस्ट्रॉल का उपयोग करता है, जिससे शरीर में कोलेस्ट्रॉल का स्तर कम हो जाता है।

सोर्बिटोल एक सिरप के रूप में कार्य करता है और कब्ज को दूर करने के लिए एक आसमाटिक रेचक के रूप में भी कार्य करता है।

सोर्बिलाइन सिरप का इस्तेमाल कैसे करें

इस दवा की खुराक और खुराक की अवधि के लिए अपने चिकित्सक से परामर्श करें। कृपया उपयोग करने से पहले स्तर की जांच करें। इसे मापने वाले कप से मापें और फिर पी लें।

इस्तेमाल से पहले अच्छी तरह हिलायें। सोर्बिलाइन सिरप भोजन के साथ या खाली पेट लिया जा सकता है, लेकिन बेहतर यह होगा कि इसे एक नियत समय पर वरीयता के साथ लिया जाए।

सोर्बिलाइन सिरप की क़ीमत

सोर्बिलाइन सिरप की कीमत भारत में, रुपये के लिए अनुशंसित खुदरा मूल्य- 80-100 है।

अन्य सिरप के बारे में जानकारी
Alex SyrupDrakshasava Syrup
Ashokarishta SyrupCremaffin Syrup
Mactotal SyrupAscoril LS Syrup
Lohasava SyrupDexorange Syrup
Bonnisan SyrupCitralka Syrup

हम उम्मीद करते है की आपको सोर्बिलाइन सिरप के बारे में सारी जानकारी हिंदी में मिल गयी होगी, इस दवाई का उपयोग से पहले अपने निजी डॉक्टर से सलाह-मशवरा जरुर ले।

सोर्बिलाइन के उपयोग, नुक्सान, फायदे” आपके लिए उपयोगी होगा, इसके साथ-साथ आपको सोर्बिलाइन सिरप के बारे में जानकारी मिल गयी होगी, अगर आपका कोई भी सवाल या सुझाव है, तो हमे कमेंट में बता सकते है।