अगर सिर दर्द है तो इन पांच घरेलू उपाय से हो जाएगा छू मंतर

आज हम इस पोस्ट में बात करेंगे की सिर दर्द का पक्का इलाज किस तरह से कर सकते है तो आज इसके बारे में आपको पूरी जानकारी दी जाएगी इस पोस्ट में तो आइये शुरू करते है।

सिर दर्द

सिर दर्द क्या है ?

सिर में किसी भी कारण से होने वाले दर्द को सिरदर्द कहते हैं। सिरदर्द सिर के किसी भी हिस्से में होने वाला दर्द है। सिरदर्द सिर के एक या दोनों तरफ हो सकता है। यह सिर के एक बिंदु से शुरू होकर पूरे सिर तक फैल जाता है या किसी खास जगह पर होने लगता है।

यह दर्द सिर में सनसनी पैदा करने वाले तेज या हल्के दर्द के रूप में प्रकट हो सकता है, सिरदर्द धीरे-धीरे या अचानक उठ सकता है और एक घंटे से लेकर कई दिनों तक रह सकता है। सिर दर्द से निजात पाने के लिए घरेलू नुस्खे अपनाए जा सकते हैं।

सिर दर्द के कारण

अगर आपकी नींद सिर दर्द से परेशान है तो आपको क्लस्टर सिरदर्द हो सकता है। माइग्रेन की तरह यह भी सिर के एक तरफ होता है। क्लस्टर सिरदर्द 20 से 50 वर्ष की आयु के लोगों में आम है।

इसके अलावा उच्च रक्तचाप, स्लीप एपनिया और ब्रेन ट्यूमर के कारण भी सिरदर्द हो सकता है। तनाव खुद को दर्द के रूप में प्रस्तुत करता है! दर्द धीरे-धीरे आपको पकड़ लेता है और समय के साथ बढ़ता जाता है।

ऐसा महसूस होता है कि आपके सिर पर बहुत दबाव है, जैसे कोई आपका सिर दबा रहा हो।दर्द लगातार बना रह सकता है और आपके सिर के दोनों तरफ एक टाइट बैंड की तरह प्रभावित हो सकता है।

रोजाना सिर दर्द के कारण

  • तनाव और चिंता आपको चिंताग्रस्त कर देते है और आपकी मांसपेशियों को कस देते है
  • खराब मुद्रा के परिणामस्वरूप आप गर्दन, सिर और चेहरे पर दर्द को महसूस कर सकते हैं
  • अपने कंप्यूटर स्क्रीन पर लगातार देखने के कारण आपके चेहरे, गर्दन और सिर की मांसपेशियों से तनाव हो सकता है

सिर दर्द से बचने के उपाय

अपनी रोजमर्रा की जिंदगी में कुछ बदलाव करके आप सामान्य समस्याओं जैसे सोने या समय पर खाना आदि के कारण होने वाले सिरदर्द और माइग्रेन को होने से रोक सकते हैं। आइए जानते हैं ऐसे ही कुछ आसान उपायों के बारे में-

  1. तनाव – व्यायाम और प्राणायाम के जरिए तनाव कम करने की कोशिश करें। ज्यादा तनाव और चिंता न करें
  2. पानी – नियमित रूप से खाएं और अपने अंदर पानी की कमी न होने दें. दिन में 10-12 गिलास पानी पिएं।
  3. दवाई – किसी भी दवा को लगातार लेने और अचानक बंद करने से सिरदर्द गंभीर रूप ले लेता है।
  4. शराब – अधिक मात्रा में और बिना पानी के शराब का सेवन करने से सिरदर्द होता है।
  5. निकोटिन – तंबाकू के सेवन से भी सिरदर्द होता है।
  6. नींद – नियमित और पर्याप्त मात्रा में नींद लें।
  7. नींद – रोजाना कम से कम 7-8 घंटे की नींद लें और सुबह जल्दी उठें।
  8. मेडिटेशन – रोजाना मेडिटेशन और एक्सरसाइज करें।
  9. टीवी या कंप्यूटर देखना – लंबे समय तक टीवी या कंप्यूटर न देखें।
  10. सांस लें – गहरी सांस लें।
  11. भोजन करना – समय पर भोजन करना।

सिर दर्द की आयुर्वेदिक दवा

पुदीने की पत्तियों को पीसकर उनका रस माथे पर लगाएं या पुदीने की चाय बनाकर पिएं। तुलसी सिरदर्द भगाने का पक्का इलाज है। तुलसी की कुछ पत्तियों को पानी में उबालें और छानकर पिएं। तुलसी को सामान्य तरीके से चबाने से भी सिरदर्द रफूचक्कर हो जाता है।

सिर दर्द का मंत्र

यह अत्यधिक प्रभावशाली व चमत्कारिक मंत्र है। इस मंत्र से कई तरह के रोगों का उपचार भी किया जा सकता है। हिंदू शास्त्रों में गायत्री मंत्र ‘ऊं भूर्भुव स्वः तत्सवितुर्वरेण्यं भर्गो देवस्य धीमहि धियो यो नः प्रचोदयात्’ को शास्त्रकार मंत्र कहा गया है।

दाद खाज खुजली को जड़ से मिटाए

सिर दर्द का घरेलू इलाज

सालों से लोग सिरदर्द से राहत पाने के लिए एक्यूप्रेशर का इस्तेमाल कर रहे हैं। सिर दर्द होने पर अपनी दोनों हथेलियों को सामने लाएं। इसके बाद एक हाथ से दूसरे हाथ के अंगूठे और तर्जनी के बीच की जगह पर हल्की मालिश करें। इस प्रक्रिया को दोनों हाथों में दो से चार मिनट तक दोहराएं। ऐसा करने से आपको सिर दर्द से राहत मिलेगी।

सर दर्द के घरेलू इलाज

1. लौंग के तेल से मालिश

तवे पर कुछ लौंग की कलियाँ गरम करें और इन गर्म लौंग की कलियों को रूमाल में बाँध लें। कुछ देर बाद इस बंडल को महकते रहें। आप पाएंगे कि सिरदर्द कम हो गया है।

तुलसी बीज के फायदे हिंदी में

2. नींबू को चाय में मिलाकर पिएं

चाय में नींबू मिलाकर सिर दर्द से भी छुटकारा पाया जा सकता है। इसके लिए चाय में नींबू निचोड़कर पीना चाहिए।

लिवर रोग – कारण, प्रकार, लक्षण और इलाज

3. नींबू और गर्म पानी पिएं

अगर आपके पास समय की कमी है या आप कहीं बाहर हैं और आपको अचानक तेज सिर दर्द होने लगे तो यह झटपट नुस्खा आपके बहुत काम आ सकता है। इसमें आपको बस इतना करना है कि एक गिलास में गर्म पानी लें और उसमें नींबू का रस पिएं। इससे सिर दर्द में आराम मिलता है। कई बार पेट में गैस बनने से भी सिरदर्द हो जाता है।

खांसी की दवा कोनसी अच्छी होती है?

4. तुलसी और अदरक का रस

तुलसी और अदरक के प्रयोग से भी सिर दर्द से छुटकारा पाया जा सकता है। इसके लिए तुलसी के पत्तों का रस और अदरक का रस एक साथ मिला लें। इसके बाद इसे माथे पर लगाएं। वहीं, सिर दर्द से पीड़ित व्यक्ति को भी यह जूस दिया जा सकता है। इससे सिर दर्द में काफी आराम मिलेगा।

पीलिया की दवा और घरेलू उपचार

5. सेब पर नमक डालकर खाएं

अगर बहुत कोशिशों के बाद भी सिर दर्द का नाम नहीं ले रहा है तो एक सेब को काटकर उसमें नमक मिलाकर खाएं। सिर दर्द में राहत पाने के लिए यह बहुत ही कारगर उपाय है।

धातु रोग का इलाज कैसे करें?

अंतिम शब्द : आशा है आपको अपने सवालों का जवाब मिल गया होगा। धन्यवाद।