ग्रिलिंक्टस सिरप क्या है – इस्तेमाल, फायदे और साइड इफेक्ट्स

Grilinctus Syrup का उपयोग क्या है, यहाँ आप ग्रिलिंक्टस सिरप के बारे में सम्पूर्ण जानकारी प्राप्त करेंगे। इस लेख में आप ग्रिलिंक्टस सिरप के बारे में हिंदी में जानकारी मिलेंगी।

Grilinctus Syrup Uses

जानिए ग्रिलिंक्टस सिरप की जानकारी, लाभ, फायदे, उपयोग, प्रयोग, कीमत, कब लें, कैसे लें, कितना लें, खुराक, डोज, साइड इफेक्ट्स, नुकसान, दुष्प्रभाव और सावधानियां-

दवा के घटकChlorpheniramine + Dextromethorphan + Ammonium chloride + Guaifenesin
निर्माताFranco Indian Pharmaceuticals Pvt Ltd
कीमत ₹109.2 / एक बोतल में 100 ml सिरप

ग्रिलिंक्टस सिरप

ग्रिलिंक्टस सिरप का उपयोग कफ सिरप के रूप में किया जाता है जो पूरी तरह से एक्सपेक्टोरेंट, एंटीहिस्टामाइन और एंटीट्यूसिव गुणों से युक्त होता है। यह खांसी और सांस की समस्याओं से राहत देता है।

इसका उपयोग सामान्य सर्दी, फ्लू, कफ, सूखी खांसी, सांस की तकलीफ आदि के सभी लक्षणों के इलाज के लिए किया जाता है। ग्रिलिंक्टस सिरप एक ओवर द काउंटर (ओटीसी) दवा है, जो किसी भी मेडिकल स्टोर पर आसानी से उपलब्ध है।

गर्भावस्था और गुर्दे की बीमारियों के मामलों में इसे पूरी तरह से टालना चाहिए।

नामGrilinctus Syrup
संरचनाGuaifenesin + Chlorpheniramine + Maleate + Ammonium
निर्माताFranco Indian Pharmaceuticals Pvt Ltd
दवा-प्रकारAntihistamine
कीमत104.63 Rs
वेरिएंटGrilinctus Ls Syrup, Grilinctus Bm Syrup, Grilinctus Dx Syrup
विकल्पBrutus Syrup, Lastuss D Syrup, Respira D Syrup

ग्रिलिंक्टस सिरप के उपयोग और लाभ

ग्रिलिंक्टस सिरप का प्रयोग निम्नलिखित स्थितियों और विकारों के लिए डॉक्टर से सलाह लेने के बाद ही किया जाता है।

  • श्वसन संबंधी रोग
  • सामान्य जुकाम
  • एलर्जी
  • ब्रोंकाइटिस
  • हे फीवर (राइनाइटिस)
  • खांसी
  • सदमा
  • हाइपोक्लोरिक अवस्था
  • चयापचय क्षारमयता

इनके अलावा कुछ अन्य स्थितियों में भी डॉक्टर ग्रिलिंक्टस सिरप की सलाह देते हैं।

ग्रिलिंक्टस सिरप के नुकसान

ग्रिलिंक्टस सिरप के संभावित दुष्प्रभाव निम्नलिखित हैं। जो शरीर के अलग रिएक्शन, एलर्जी या गलत डोज की वजह से हो सकता है। साइड इफेक्ट से बचने के लिए सबसे पहले डॉक्टर से डोज को समझना जरूरी है।

  • विज्ञापन
  • कम रक्त दबाव
  • चक्कर आना
  • सिरदर्द
  • हीव्स
  • दस्त
  • उल्टी
  • बीमारी की भावना
  • भूख में बदलाव
  • रक्तचाप में कमी
  • एलर्जी संबंधी विकार
  • गुर्दे की पथरी
  • मतली
  • पेट में दर्द
  • तंद्रा

इनके अलावा ग्रिलिंक्टस सिरप अन्य दुष्प्रभाव भी पैदा कर सकता है। यदि आपको अत्यधिक दुष्प्रभाव दिखाई दें तो डॉक्टर की मदद लें।

ग्रिलिंक्टस सिरप की खुराक

  • क्योंकि इसका सेवन बहुत ही सोच समझ कर करना चाहिए। इसलिए डॉक्टरों ने इसकी डोज का एक पैरामीटर तैयार किया है।
  • ग्रिलिंक्टस सिरप की खुराक व्यक्ति की उम्र, लिंग, वजन, शारीरिक स्थिति और मानसिक स्थिति पर निर्भर करती है।
  • एक सामान्य उम्र के वयस्क के लिए खुराक को दिन में 2 से 3 भागों में बांटा गया है।
  • प्रत्येक खुराक के बीच कम से कम 4-6 घंटे का अंतर होना चाहिए।
  • छोटे बच्चों के लिए, यह लगभग 2 वर्ष से कम उम्र के बच्चों के लिए पूरी तरह से बाल रोग विशेषज्ञ की देखरेख में होना चाहिए।
  • खुराक में कोई भी बदलाव करने से पहले डॉक्टर की सलाह लेनी चाहिए।
  • इसका सेवन करने से पहले बोतल को अच्छी तरह से हिलाना चाहिए।
  • अगर आप ग्रिलिन्क्टस सिरप निर्धारित समय पर लेना भूल गए हैं तो जितनी जल्दी हो सके निर्धारित खुराक ले लें।
  • यदि ग्रिलिंक्टस सिरप की अगली खुराक का समय निकट है, तो छूटी हुई खुराक न लें।
  • ग्रिलिंक्टस सिरप के ओवरडोज या ओवरडोज से साइड इफेक्ट की संभावना बढ़ सकती है। ऐसे में जल्द से जल्द डॉक्टर से संपर्क करें।

हम उम्मीद करते है की आपको ग्रिलिंक्टस सिरप के बारे में सारी जानकारी हिंदी में मिल गयी होगी, इस दवाई का उपयोग से पहले अपने निजी डॉक्टर से सलाह-मशवरा जरुर ले।

ग्रिलिंक्टस के उपयोग, नुक्सान, फायदे” आपके लिए उपयोगी होगा, इसके साथ-साथ आपको ग्रिलिंक्टस सिरप के बारे में जानकारी मिल गयी होगी, अगर आपका कोई भी सवाल या सुझाव है, तो हमे कमेंट में बता सकते है।